हाइलाइट्स

पीसीए अध्यक्ष गुलजार चहल अपने रिटायर्ड डीजीपी पिता के कारण सवालों के घेरे में आए
पिता पर कथित रूप से मोहाली स्टेडियम के क्यूरेटर से दुर्व्यवहार का आरोप लगा है

नई दिल्ली. पंजाब क्रिकेट संघ (पीसीए) के अध्यक्ष गुलजार चहल अपने पिता (पूर्व आईपीएस अधिकारी) द्वारा पीसीए स्टेडियम परिसर के अंदर एक अनुभवी मैदानकर्मी (क्यूरेटर) के साथ कथित रूप से दुर्व्यवहार करने के बाद सवालों के घेरे में आ गए हैं. यह घटना करीब दो सप्ताह पहले की है, जब गुलजार के पिता रिटायर्ड डीजीपी हरिंदर सिंह चहल मोहाली में पीसीए स्टेडियम के परिसर के अंदर शाम की सैर पर थे.

यह अनुभवी क्यूरेटर पीसीए के आजीवन सदस्य है और बीसीसीआई में विभिन्न पदों पर काम कर चुके हैं. इस घटना के बाद उन्हें कुछ दिनों के लिए मैदान में प्रवेश करने से रोक दिया गया था, लेकिन जब पीसीए गलियारों के अंदर इस मामले ने तूल पकड़ा तो उन्हें स्टेडियम में आने की अनुमति दे दी  गई.

पीसीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘अध्यक्ष के पिता को सुबह या शाम की सैर के लिए स्टेडियम परिसर का उपयोग करने की अनुमति नहीं दी जा सकती क्योंकि वह संघ के सदस्य नहीं हैं. अनुभवी क्यूरेटर उनके पिता को नहीं पहचानते थे और इसलिए उन्होंने उनसे पूछताछ की.’

Duleep Trophy Final: यशस्वी जायसवाल का नाबाद दोहरा शतक, वेस्ट जोन की दमदार वापसी

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने भारत की घरेलू लीग से मिले करोड़ों के ऑफर को ठुकराया, जानिए क्यों किया ऐसा?

उन्होंने कहा, ‘क्यूरेटर को जब पता चला कि वह पीसीए अध्यक्ष के पिता है, तो उन्होंने माफी मांगी लेकिन उन्हें स्टेडियम के अंदर नहीं आने को कहा गया. अनुभवी क्यूरेटर पीसीए के आजीवन सदस्य है लेकिन किसी पद पर नहीं है.’ यह समझा जाता है कि अनुभवी क्यूरेटर को अस्थायी रूप से मैदान आने से प्रतिबंधित करने का मामला तूल पकड़ रहा था, जिसके बाद उन्हें स्टेडियम में प्रवेश करने और काम करने की अनुमति दे दी गयी. पीसीए प्रमुख गुलजार से जब इस मामले में प्रतिक्रिया के लिए किये गये फोन कॉल और टेक्स्ट मैसेज (फोन संदेश) का कोई जवाब नहीं दिया.

Tags: Hindi Cricket News, India vs Australia, Mohali, Punjab



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.