नई दिल्ली. जब से भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर को अलविदा कहा है, तब सेभारतीय टीम प्रबंधन किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश में है जो लंबे समय तक फिनिशर की भूमिका निभा सके. टी20 फॉर्मेट अभी प्रमुख रूप से हार्दिक पंड्या हैं, जो डेथ ओवर में पारी को संभाले हुए हैं. उनके अलावा शायद ही कोई ओर खिलाड़ी टीम है, जो यह काम कर पा रहा है. हालांकि, आईपीएल 2022 के बाद दिनेश कार्तिक ने शानदार कमबैक किया है, लेकिन उनकी उम्र 37 साल है. ऐसे में पूर्व चयनकर्ता सबा करीम टीम इंडिया के थिंक टैंक के लिए एक सला लेकर आए हैं.

भारत के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज सबा करीम ने सुझाव दिया कि भारतीय टीम के लिए अब नए और युवा फिनिशर विकसित करने का समय आ गया है. स्पोर्ट्स 18 के शो ‘स्पोर्ट्स ओवर द टॉप’ में बात करते हुए सबा ने राहुल तेवतिया और शाहरुख खान के नाम सुझाए, जिन्हें भविष्य के फिनिशरों में ढाला जा सकता है.

14 की उम्र में जिस खेल में जीता गोल्ड… 24 साल में उसी की प्रैक्टिस में वर्ल्ड चैंपियन ने गंवा दी जान

सबा करीम ने दी युवा क्रिकेटरों को तैयार करने की सलाह
सबा करीम ने कहा, ”मुझे लगता है कि अब समय आ गया है कि ऐसे युवा क्रिकेटरों को विकसित किया जाए. क्योंकि आप देखिए, आईपीएल में ज्यादातर टीमें विदेशी बल्लेबाजों को उस पद पर रखना पसंद करती हैं. आपके पास डेविड मिलर हो सकता है, आपके पास टिम डेविड है आपके पास रोवमैन पॉवेल है…. जिसका अर्थ है कि अभी भी युवा प्रतिभाएं जो भारतीय घरेलू सर्किट से आ रही हैं, वे अभी भी दबाव को संभालने के लिए तैयार नहीं हैं.”

‘शाहरुख खान और राहुल तेवतिया के पास है कौशल’
उन्होंने आगे कहा, ”आपने शाहरुख खान और राहुल तेवतिया दोनों का जो नाम लिया है, वह युवा हैं. उनके पास कौशल है और उन्हें कहीं अधिक सुसंगत होने की आवश्यकता है, लेकिन ऐसा करने के लिए हमें उनके पीछे और कुछ वक्त लगाने की जरूरत है, ताकि वे अंतरराष्ट्रीय गुणवत्ता के उस स्तर तक आ सकें.”

जेल में प्यार … वकील से रचाई शादी, अब तीसरी बार बना पिता, फिल्मी कहानी से कम नहीं पाकिस्तान के पूर्व पेसर की LOVE STORY

रवि बिश्नोई को तीनों फॉर्मेट में खेलते देखना चाहते हैं 
करीम ने आगे कहा कि वह भारत के लिए खेल के तीनों प्रारूपों में लेग स्पिनर रवि बिश्नोई को खेलते देखना चाहते हैं. युवा लेग स्पिनर ने 10 टी20 इंटरनेशनल में 17.12 के औसत और 7.08 की इकोनॉमी रेट से 16 विकेट लिए हैं.

बिश्नोई को अपने राज्य की ओर से रेड-बॉल क्रिकेट खेलने की जरूरत है
उन्होंने कहा, ”मैं उसे तीनों प्रारूपों में खेलते हुए देखना पसंद करूंगा और किसी कारण से हम इन दिनों टेस्ट मैच प्रारूप में कोई लेग स्पिनर नहीं देखते हैं. लेकिन मैं यहां बदलाव देखना चाहता हूं और रवि बिश्नोई एक ऐसे उम्मीदवार हैं जो तीनों प्रारूपों में खेल सकते हैं. भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं. लेकिन इससे पहले, उसे अपने राज्य की ओर से रेड-बॉल क्रिकेट खेलने की जरूरत है और अगर वह वहां अच्छा करता है तो इससे उसका आत्मविश्वास बढ़ेगा. फिर भारतीय चयनकर्ता उसे तीनों प्रारूपों में खेलने के बारे में सोच सकते हैं.”

उन्होंने कहा, ”उन्होंने जिस तरह की उत्सुकता और क्षमता दिखाई है, उनके पास जो कौशल है, वह वास्तव में काबिले-तारीफ है. उम्र में युवा और वह सब अनुभव वास्तव में आत्मविश्वास बढ़ाने में मदद करता है. वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी ऐसा करना जारी रख सकता है.”

Tags: Rahul Tewatia, Ravi Bishnoi, Saba karim, Shahrukh khan



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.