मोहाली. भारत के पूर्व बल्लेबाज युवराज सिंह ने मंगलवार (20 सितंबर) को यहां पंजाब क्रिकेट संघ द्वारा सम्मानित किए जाने के बाद कहा कि राज्य इकाइयों को अंतरराष्ट्रीय के साथ घरेलू पूर्व क्रिकेटरों की उपलब्धियों की भी सराहना की जानी चाहिए. लगभग दो दशक तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद 40 साल के इस दिग्गज हरफनमौला ने 2019 में संन्यास ले लिया था. वह मंगलवार को यहां के पीसीए (पंजाब क्रिकेट संघ) स्टेडियम आए.

घरेलू मैचों में पंजाब का प्रतिनिधित्व करने हुए उन्होंन इस स्टेडियम में कई मैच खेले हैं. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की सीरीज के पहले टी20 मुकाबले के दौरान युवराज और ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के नाम पर दो दर्शक दीर्घाओं का अनावरण किया गया.

भारत को 2011 विश्व चैंपियन बनाने वाले नायकों में शामिल रहे युवराज यहां बीसीसीआई का ‘ब्लेजर’ पहन कर आए थे. उन से जब इस ‘ब्लेजर’ के बारे में पूछा गया तो वह भावुक हो गए. उन्होंने कहा, ”पीसीए स्टेडियम में इस तरह वापस आकर अच्छा लग रहा है. मैं पहली बार अपने स्टेडियम में बीसीसीआई का ब्लेजर पहन रहा हूं. मेरे पूर्व संघ द्वारा बुलाए जाने पर बहुत अच्छा लग रहा है.”

उन्होंने कहा, ”पीसीए के नये अध्यक्ष गुलजारी इंदर चहल खुद एक क्रिकेटर थे. वह घरेलू हो या अंतरराष्ट्रीय पूर्व क्रिकेटरों को सम्मानित करने के महत्व को जानते हैं. घरेलू खिलाड़ियों को भी सम्मानित किया जाना चाहिए.” पीसीए ने दर्शक दीर्घा के अनावरण के मौके पर पंजाब के पूर्व क्रिकेटरों भारती विज, महेश इंदर सिंह, भारत के वर्तमान चयनकर्ता हरविंदर सिंह, भूपिंदर सिंह सीनियर और भारत के मौजूदा बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर को भी सम्मानित किया.

Tags: Harbhajan singh, India vs Australia, Mohali, Yuvraj singh





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.