क्रिकेट की पिच पर रोजाना चौके और छक्‍कों की बरसात करने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी पढ़ाई की पिच पर कुछ ने जमकर रन बटोरे, तो कई खिलाड़ी बीच से ही पवैलियन लौट गए. ये बात आपको थोड़ी अटपटी जरूर लग रही होगी, लेकिन हम बात कर रहे हैं टी 20 वर्ल्‍ड कप में चयनित भारतीय खिलाड़ियों के पढ़ाई लिखाई की. जी हां, क्रिकेट मैदान पर जमकर रन बटोरने वाले इन खिलाड़ियों में कोई दसवीं पास है तो कोई बारहवीं, तो किसी ने बीच में कॉलेज जाना छोड़ दिया, लेकिन इन्‍हीं में से कई ऐसे खिलाड़ी भी हैं, जिन्‍होंने इंजीनियरिंग तक की पढ़ाई की है.

कुछ खिलाड़ी ऐसे हैं जिन्‍होंने शुरू से ही क्रिकेट को अपना करियर मान लिया और सबकुछ छोड़कर  क्रिकेट में ही अपनी किस्‍मत आजमाई. टी 20 वर्ल्‍ड कप खेलने वाली टीम में सबसे पढ़े लिखे खिलाड़ी की बात करें तो रविचंद्रन अश्विन का नंबर सबसे पहले आएगा .अश्विन ने इंजीनियरिंग से इन्फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी में बी.टेक किया है. वहीं कप्‍तान रोहित शर्मा 12वीं तक पढ़े लिखे हैं, तो विराट कोहली ने 9वीं तक पढ़ाई की है.
1.रोहित शर्मा 12वीं पास 
भारतीय टी-20 टीम के कप्तान और दमदार खिलाड़ी रोहित शर्मा अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए मशहूर हैं. रोहित शर्मा ने अपना बचपन मुंबई के बोरिवली में अपने दादा-दादी के साथ बिताया. रोहित की प्राथमिक शिक्षा मुंबई के आर लैडी ऑफ वैलनकन्नी हाईस्कूल से हुई लेकिन रोहित की रूचि बचपन से ही क्रिकेट में थी. यही कारण था कि वह स्‍कूल क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन करते थे और उनके बेहतरीन प्रदर्शन के कारण स्‍कूल ने उन्‍हें स्‍कॉलरशिप भी दी. रोहित शर्मा ने स्वामी विवेकानंद स्कूल से 12वीं तक की पढ़ाई की है.

2. के एल राहुल ने बीच में ही छोड़ी पढ़ाई  
भारतीय कप्तान रोहित शर्मा के साथ ओपनिंग की कमान संभालने वाले और अपनी सधी हुई बल्लेबाजी के लिए विख्‍यात बल्लेबाज़, कन्नौर लोकेश राहुल कर्नाटक के मैंगलोर में पले-बढ़े. उनकी प्राथमिक शिक्षा, बैंगलुरू के एनआईटी स्कूल से पूरी हुई. स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद राहुल ने बैंगलुरू के ही श्री भगवान महावीर जैन कॉलेज में दाखिला लिया, लेकिन पढ़ाई बीच में ही अधूरी छोड़ दी.

3. 9वीं तक पढ़े कोहली
अपने बेहतरीन बल्लेबाजी और रनों के मामले में क्रिकेट जगत के सबसे शीर्ष बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा विशाल भारती पब्लिक स्कूल से की, जहां वह 9वीं कक्षा तक पढ़े. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बाद में विराट कोहली ने आगे की पढ़ाई दिल्ली के पश्चिम विहार के सेवियर कॉन्वेंट स्कूल से की. यहां से उन्‍होंने 12वीं तक की पढ़ाई की.

4. बी.कॉम हैं रिषभ पंत
भारतीय क्रिकेट टीम में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत काफी पॉपुलर हैं. पंत की स्कूली शिक्षा उत्तराखंड के देहरादून स्थित इंडियन पब्लिक स्कूल से हुई है. पंत की आगे की पढ़ाई दिल्ली विश्वविद्यालय के श्री वेंकटेश्वर कॉलेज से हुई, यहां से उन्‍होंने बी.कॉम की डिग्री हासिल की.

5. 8 वीं पास हैं हार्दिक पांड्या
एशिया कप के पहले मैच में अपनी बेहतरीन बल्लेबाज़ी से पाकिस्तान को खिलाफ भारत को 5 विकेट से जीत दिलाने वाले हार्दिक पांड्या बचपन में पढ़ाई की पिच पर बहुत कमज़ोर थे. 9 वीं की परीक्षा में असफल होने के बाद हार्दिक ने आगे की पढ़ाई की बजाय सिर्फ क्रिकेट पर ध्यान देने का मन बना लिया. हार्दिक पांड्या 8वीं पास हैं.

6.कुवैत से हुई दिनेश की पढ़ाई
भारतीय बल्लेबाज दिनेश कार्तिक का जन्‍म 1 जून 1985 को हुआ. उनकी प्रारंभिक शिक्षा कुवैत कारमल स्कूल और डीपीएस कुवैत से हुई है. दिनेश कार्तिक का परिवार कुछ दिन कुवैत में रहने के बाद भारत लौट आया. इसके बाद उन्‍होंने चेन्‍नई के डॉन बॉस्‍को मैटिकुलेशन हायर सेकेंडरी स्‍कूल में दाखिला लिया और आगे की पढ़ाई की. इसके बाद दिनेश ने क्रिकेट की कोचिंग ली.

7. बी. कॉम पास हैं सूर्यकुमार
भारतीय टीम में अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए पहचाने जाने वाले सूर्यकुमार यादव की शिक्षा दीक्षा मुंबई से हुई है. सूर्य कुमार ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई के एटोमिक एनर्जी सेंट्रल स्कूल से पूरी की. सूर्यकुमार ने इसके आगे की पढ़ाई मुंबई के ही पिल्लई कॉलेज ऑफ आर्टस एंड कल्चर से पूरी की. उन्‍होंने यहां से बी. कॉम किया है.

8. जिंद से पढ़ें हैं युज़वेंद्र चहल
अपनी फिरकी से बल्लेबाज़ों को छकाने वाले लेग स्पीनर युज़वेद्र चहल मूल रूप से हरियाणा के रहने वाले हैं. उनका जन्‍म 23 जुलाई 1990 को हुआ था, उनकी प्रारंभिक शिक्षा हरियाणा के जिंद के डीएवी पब्लिक स्कूल से हुई. इसके बाद उन्‍होंने महात्मा गांधी कॉलेज ऑफ हेल्थ साइंस से ग्रेजुएशन किया. युज़वेंद्र चहल ने अपने करियर की शुरूआत घरेलू मैंचों से अप्रैल 2009 में की थी. बता दें कि चहल बेहतरीन शतरंज खिलाड़ी भी रहे हैं.

9. केंद्रीय विद्यालय से हुई दीपक की पढ़ाई
अपनी तूफानी बल्लेबाजी के लिए मशहूर दीपक हुड्डा का जन्म 19 अप्रैल 1995 को हरियाणा के रोहतक में हुआ. पिता के भारतीय सेना में कार्यरत होने के कारण दीपक की प्रारंभिक शिक्षा केंद्रीय विद्यालय से हुई. स्‍कूल के दौरान ही क्रिकेट के प्रति रूझान के कारण उन्होंने क्रिकेट में ही करियर बनाने का फैसला किया. उन्‍होंने 14 साल की उम्र में केंद्रीय विद्यालय की अंडर 17 क्रिकेट टीम को लीड भी किया.

10. बीटेक पास हैं रविचंद्रन अश्विन
भारतीय टीम के लिए टेस्ट में दूसरे सबसे सफल फिरकी गेंदबाज, रविचंद्रन अश्विन ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा तामिलनाडु के पद्मा सेशाद्री बाला भवन और सेंट बेदे एंग्लो इंडियन हायर सैकेंड्री स्कूल से पूरी की. स्कूली शिक्षा के बाद अश्विन ने एसएसएन कॉलेज ऑफ इंजिनीयरिंग से इन्फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी में बी.टेक किया.

11. ग्रेजुएशन नहीं कर पाए अक्षर पटेल
20 जनवरी 1984 को जन्‍में भारतीय गेंदबाज अक्षर पटेल स्‍कूल का सपना मैकेनिकल इंजीनियर बनने का था, लेकिन 15 साल की उम्र में अपने एक दोस्‍त की सलाह पर उनका रूझान क्रिकेट के प्रति बढ़ा. अक्षर पटेल ने अपनी स्कूली शिक्षा गुजरात के नड़ियाद शहर के हाईस्कूल से पूरी की. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्‍होंने धर्मसिंह देसाई विश्वविद्यालय में स्‍नातक में दाखिला लिया, लेकिन उनकी पढ़ाई पूरी नहीं हो सकी.

12. 12वीं पास हैं जसप्रीत बुमराह
भारत के लिए हुक्म का इक्का माने जाने वाले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह का जन्‍म 6 दिसंबर 1993 को हुआ था. 5 साल की उम्र में ही उनके सिर से पिता का साया उठ गया. बुमराह की मां दलजीत ने ही उनका लालन पालन किया. दलतीज एक प्राइवेट स्‍कूल में बतौर प्रिंसपल कार्यरत थीं. जसप्रीत बुमराह की प्रारंभिक शिक्षा गुजरात के अहमदाबाद शहर के निर्माण हाईस्कूल से हुई, इसके बाद उन्‍होंने 12वीं भी अहमदाबाद से ही किया. बाद में बुमराह ने क्रिकेट में ही अपना करियर बनाने का फैसला किया.

13.भुवनेश्वर ने की है 12वीं तक की पढ़ाई
भारत के लिए शुरूआती ओवरों में अपनी स्विंग गेंदबाज़ी के लिए मशहूर तेज़ गेंदबाज़ भुवनेश्वर कुमार उत्‍तर प्रदेश के मेरठ के रहने वाले हैं. उनके पिता किरण पाल सिंह यूपी पुलिस में डीएसपी के पद पर कार्यरत हैं. भुनेश्‍वर कुमार का जन्‍म 5 फरवरी1990 को हुआ. भुनेश्‍वर कुमार ने 12वीं तक की पढ़ाई की है. भुनेश्‍वर कुमार जब 13 साल के थे तभी से वह क्रिकेट की कोचिंग करने लगे और इसके लिए उन्‍हें 7 से 8 किमी की यात्रा भी करनी पड़ती थी.
14. हर्षल पटेल हैं ग्रेजुएट
भारतीय तेज गेंदबाज हर्षल पटेल का जन्‍म 23 नवंबर 1990 को गुजरात के साणद में हुआ. हर्षल ने कम उम्र से ही क्रिकेट की कोचिंग लेनी शुरू कर दी थी. कुछ वेबसाइट्स के मुताबिक हर्षल 8 साल की उम्र से ही अपने कोच तारक तिवेदी से क्रिकेट के गुर सीखते थे. बताया जाता है कि हर्षल पटेल ने अहमदाबाद के एच.ए कॉलेज ऑफ कॉमर्स से स्नातक की पढ़ाई की है.

ये भी पढ़ें…
10वीं पास के लिए पुलिस डिपार्टमेंट में 3400 से अधिक पदों पर निकली वैकेंसी

UGC Guidelines 2022: एक साथ 2 कोर्स करने को लेकर क्या हैं यूजीसी के नियम? जानिए पूरी डिटेल्स

15. अर्शदीप सिंह भी ग्रेजुएशन पास
5 फरवरी 1999 को मध्य प्रदेश के गुना में जन्‍में अर्शदीप सिंह बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज हैं. पिता दर्शन सिंह और माताजी बलजीत कौर मूल रूप से पंजाब के रहने वाले हैं. अर्शदीप की प्रारंभिक शिक्षा चंडीगढ़ के गुरु नानक देव पब्लिक स्कूल से हुई. अर्शदीप ने काफी कम उम्र से ही क्रिकेट की कोचिंग शुरू कर दी थी अर्शदीप सिंह ग्रेजुएट हैं. ​

Tags: Career, ICC T20 World Cup 2020, ICC WorldT20



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.