हाइलाइट्स

अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में 19 तारीख को बारिश की संभावना है.
पूर्वी मध्य प्रदेश और विदर्भ में 20 और 21 सितंबर को भारी बारिश की संभावना है.
अगले 5 दिनों के दौरान उत्तराखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में छिटपुट व मध्यम बारिश हो सकती है.

नई दिल्ली. देश में मॉनसून अब अपने आखिरी दौर में है. लेकिन लगातार बारिश के कारण ऐसा लगने लगा है कि मॉनसून की एंट्री हो रही है. भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र (आईएमडी) ने ट्वीट कर बताया है कि निचले क्षोभमंडल स्तर पर उत्तर-पश्चिम भारत में एंटी-साइक्लोनिक प्रवाह के कारण, अगले 5 दिनों के दौरान पश्चिमी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में शुष्क मौसम की संभावना है. इसलिए अगले 3 दिनों के दौरान उत्तर पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों से दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की वापसी के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती जा रही हैं. वहीं ओडिशा में 18 से 21 तारीख के दौरान काफी व्यापक बारिश के साथ-साथ कई इलाकों में छिटपुट बारिश भी हो सकती है. साथ ही बिजली गिरने की भी संभावना है.

वहीं अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में 19 तारीख को बारिश की संभावना है. इसके अलावा झारखंड में 20 तारीख को बारिश हो सकती है. वहीं अगले 5 दिनों के दौरान उत्तराखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में छिटपुट गरज के साथ छिटपुट व मध्यम बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा 18 से 21 तारीख के दौरान असम और मेघालय में और गरज के साथ भारी बारिश हो सकती हैं. पूर्वी मध्य प्रदेश और विदर्भ में 20 और 21 सितंबर को, झारखंड में 20 सितंबर को भारी बारिश का पूर्वानुमान आईएमडी ने जताया है. इस बीच मौसम विभाग ने अगले 5 दिनों के दौरान दक्षिण प्रायद्वीपीय और पूर्वोत्तर भारत में कम बारिश होने की भविष्यवाणी की है.

मानसून प्रणालियों के कमजोर पड़ने और मानसून ट्रफ के भी हिमालय की तरफ खिसकने के कारण मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में भी अगले कुछ दिनों तक बारिश थमी रहेगी. वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित आंचलिक मौसम केंद्र ने राज्य के पूर्वी हिस्सों के 15 जिलों में अगले 24 से 48 घंटे के दौरान गरज चमक के साथ बारिश होने का अनुमान जताया है.

Tags: IMD alert, Weather Update



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.