हाइलाइट्स

इंडिया-ए और न्यूजीलैंड-ए के बीच तीसरा अनऑफिशियल टेस्ट बैंगलुरू में खेला जा रहा
इंडिया-ए के बल्लेबाज रजत पाटीदार ने दूसरी पारी में शतक ठोका
रजत ने रणजी ट्रॉफी के फाइनल में भी मुंबई के खिलाफ सेंचुरी जड़ी थी

नई दिल्ली. इंडिया-ए और न्यूजीलैंड-ए के बीच बैंगलुरू के चिन्नास्वामी स्टेडियम में तीसरा अनऑफिशियल टेस्ट मैच खेला जा रहा है. पहले दो मुकाबले ड्रॉ रहे थे और इस मैच का भी नतीजा निकले, ऐसी उम्मीद कम ही दिख रही है. हालांकि, भारत के लिहाज से इस मैच में काफी कुछ अच्छा हुआ. ऋतुराज गायकवाड़ फॉर्म में लौट आए. उन्होंने इस मैच की पहली पारी में शतक ठोका था और दूसरी में 6 रन से चूक गए. लेकिन, इंडिया-ए को मजबूत स्थिति में पहुंचाने का काम कर दिया. ऋतुराज के अलावा मध्य प्रदेश की तऱफ से घरेलू क्रिकेट खेलने वाले रजत पाटीदार का बल्ला भी इस मैच में जमकर बोला.

पहली पारी में 30 रन पर आउट होने वाले रजत ने दूसरी में शतक ठोक डाला. उनकी इस पारी के कारण तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार को इंडिया-ए की बढ़त 400 रन के पार हो गई है. इससे पहले इंडिया-ए की पहली पारी में 293 रन के जवाब में न्यूजीलैंड-ए पहली पारी में 237 रन पर ऑल आउट हो गई थी. इंडिया-ए ने तीसरे दिन खबर लिखे जाने तक 5 विकेट के नुकसान पर 342 रन बना लिए हैं.

रजत पाटीदार के लिए यह साल यादगार रहा है. आईपीएल-2022 के एलिमिनेटर मुकाबले में विराट कोहली की आरसीबी के लिए शतक ठोकने से शुरू हुआ सिलसिला इंडिया-ए की तरफ से खेलते हुए भी जारी है. उन्होंने आईपीएल के बाद रणजी ट्रॉफी के फाइनल में मुंबई के खिलाफ 122 रन की पारी खेली थी. इसके बाद इंडिया-ए के लिए डेब्यू पर 176 रन की पारी खेली और इंडिया-ए के लिए अपने तीसरे ही मैच में एक और शतक ठोक दिया. यह न्यूजीलैंड-ए के खिलाफ अनऑफिशियल टेस्ट सीरीज की चौथी पारी में रजत का दूसरा शतक है.

रजत ने आईपीएल एलिमिनेटर में शतक ठोका था
रजत पहली बार तब सुर्खियों में आए थे, जब उन्होंने इस साल आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए एलिमिनेटर मुकाबले में 112 रन की नाबाद पारी खेली थी. इसके बाद रजत ने दूसरे क्वालिफायर में भी 58 रन बनाए थे. इसके बाद बाद 2021-22 की रणजी ट्रॉफी में भी मध्य प्रदेश के इस बल्लेबाज का बल्ला जमकर बोला था. रजत ने क्वार्टर फाइनल में पंजाब के खिलाफ 85, सेमीफाइनल में 7 और 79 रन की पारी और फाइनल में मुंबई के खिलाफ 122 और नाबाद 30 रन ठोके थे. अगर मध्य प्रदेश पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जीत पाया तो उसमें रजत की भूमिका सबसे अहम थी.

Duleep Trophy: आईपीएल के 3 सीजन तक धोनी की CSK में बेंच पर ही बैठा रहा, अब गेंद से बरपाया कहर

UAE T20 League: MI एमिरेट्स के हेड कोच बने शेन बॉन्ड, 3 भारतीय दिग्गज भी कोचिंग स्टाफ से जुड़े

रणजी ट्रॉफी फाइनल में भी सेंचुरी जमाई थी
आईपीएल-2022 में उतरने से पहले रजत ने रणजी ट्रॉफी के ग्रुप स्टेज के मुकाबलों में 84 की औसत से 335 रन बनाए थे. इसके बाद उन्होंने आईपीएल में एक शतक और दो अर्धशतक की बदौलत 333 रन जोड़े. वहीं, रणजी ट्रॉफी के नॉकआउट मुकाबले में आने के बाद भी उनका बल्ला खामोश नहीं हुआ. उन्होंने 5 पारियों में ही 323 रन ठोक डाले थे.

Tags: Duleep trophy, India a, IPL 2022, Ranji Trophy, Rcb



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.