हाइलाइट्स

फायरिंग पर कई चौंकाने वाले खुलासे, दहशत फैलाने ही चलाई थी गोली
पकड़े गए आरोपियों से दो देशी पिस्टल बरामद, पुराना है आपराधिक इतिहास

बेगुसराय. बेगूसराय जिले में हुई गोलीबारी में एक व्यक्ति की मौत के बाद बिहार पुलिस ने चार लोगों की गिरफ्तारी के साथ मामले का खुलासा कर दिया गया है. इस खुलासे में पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों और थ्रीडी लेजर कैमरों की मदद दी, जिस कारण आरोपी पुलिस के शिकंजे में आ गए. गिरफ्तार किए गए लोगों में मुख्य आरोपी केशव कुमार उर्फ ​​नागा, सुमित कुमार, युवराज और अर्जुन कुमार शामिल हैं. बेगूसराय पुलिस ने कहा कि दो और शूटर फिलहाल फरार हैं और उन्हें पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है. आरोपियों तक पहुंचने के लिए पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों का सहारा लिया और उसे इसमें कामयाबी मिल गई.

गौरतलब है कि बेगूसराय में मंगलवार को अलग-अलग जगहों पर दो मोटरसाइकिल सवार चार लोगों ने राहगीरों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी, जिसमें 30 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई और 11 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे. इस घटना के बाद हड़कंप मच गया था. इस मामले का खुलासा करने के लिए पुलिस ने 22 स्थानों से सीसीटीवी फुटेज को लिया गया था.

फायरिंग पर कई चौंकाने वाले खुलासे, दहशत फैलाने ही चलाई थी गोली
बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार इस पूरे गोलीकांड का पटापेक्ष करने का दावा करते हुए कहा कि साइको शूटर्स ने पुलिस की पूछताछ में चौंकाने वाले खुलासे किए हैं. एसपी योगेंद्र कुमार ने कहा कि इस घटना के पीछे अपराधियों का मकसद सिर्फ दहशत फैलाना था. दो बाइक पर सवार चार बदमाश दिखे थे जिनमें से युवराज और सुमित की गिरफ्तारी हुई है. इसके अलावा चुनचुन और केशव उर्फ नागा की गिरफ्तारी हुई है. ये दोनों घटना में शामिल थे.

पकड़े गए आरोपियों से दो देशी पिस्टल बरामद, पुराना है आपराधिक इतिहास
पकड़े गए आरोपियों के पास से दो देशी पिस्टल, पांच कारतूस और चार मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं. पुलिस ने तीन मोटरसाइकिलें और कपड़े भी बरामद किए हैं जो आरोपी ने कथित रूप से अपराध करते हुए पहने थे. बताया गया है कि युवराज को पहले गिरफ्तार किया गया था. उससे पूछताछ में अन्य का नाम सामने आया. दो बाइक जब्त हो गई हैं. जिन चारों की गिरफ्तारी हुई है उन पर कई मामले दर्ज हैं.

Tags: Begusarai news, Bihar News



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.