नई दिल्ली. प्रधानमंत्री जनऔषधि परियोजना (Pradhan Mantri Jan Aushadhi Pariyojana) के अंतर्गत पीएमबीआई (PMBI) ने किफायती कीमतों (Affordable Prices) पर मधुमेह की दवाओं (Diabetes Medicines) का नया वैरिएंट लाया है. फर्मास्यूटिकल तथा मेडिकल डिवाइसेज ब्यूरो ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रवि दधिच (Ravi Dadhich) ने प्रधानमंत्री जनऔषधि परियोजना के अंतर्गत मधुमेह के लिए दवाओं का नया वैरिएंट सीटाग्लिप्टिन (Sitagliptin) सभी के लिए किफायती मूल्यों पर विक्री के लिए लॉन्‍च किया. पीएमबीआई ने अपने सभी जनऔषधि केंद्रों में दवाओं के नए वैरिएंट सीटाग्लिप्टिन और इसके कम्बिनेशन को शामिल किया है.

आपको बता दें कि सूगर की बीमारी में इस्तेमाल होने वाली सीटाग्लिप्टिन फॉस्फेट टैबलेट आईपी 50 एमजी की कीमत जनऔषधि केंद्रों पर 60 रुपये होगी. वहीं, सीटाग्लिप्टिन फॉस्फेट टैबलेट आईपी 100 एमजी की कीमत 100 रुपये रखा गया है. इसी तरह सीटाग्लिप्टिन + मेटफोर्मिन हाइड्रोक्लोराइड टैबलेट 50 एमजी /500 एमजी की कीमत 65 रुपये निर्धारित की गई है. सीटाग्लिप्टिन + मेटफोर्मिन हाइड्रोक्लोराइड की गोलियां 50 एमजी /1000 एमजी की कीमतें 70 रुपये निर्धारित की गई है.

Diabetes drug, Diabetes Medicines, sitagliptin, drugs rate, pm jan aushadhi yojna, diabetes type 2, Diabetes Drug, Pradhan Mantri Janaushadhi Pariyojana, Affordable Prices, Sitagliptin PRICE, मधुमेह रोगियों के लिए किफायदी दाम पर दवा, मोदी सरकार, मधुमेह रोगी, सिटाग्लिप्टिन दवा, प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र, प्रधानमंत्री जनऔषधि परियोजना, पीएमबीआई,

टाइप-2 वाले व्यस्कों में ग्लाइसोमिक नियंत्रण में सुधार के लिए सीटाग्लिप्टिन को आहार और व्यायाम के सहायक माना गया है.(Image Canva)

मधुमेह रोगियों के लिए खुशखबरी
आपको बता दें कि टाइप-2 वाले व्यस्कों में ग्लाइसोमिक नियंत्रण में सुधार के लिए सीटाग्लिप्टिन को आहार और व्यायाम के सहायक माना गया है. प्रधानमंत्री जनऔषधि केद्रों में मिलने वाली ये दवाइयां बाजार में मिलने वाली ब्रांडेड कंपनियों की तुलना में 60- 70 प्रतिशत कम मूल्य पर उपलब्ध होंगे, क्योंकि ये अन्य मेडिकल स्टोर पर 162 रुपये से लेकर 258 रुपये में उपलब्ध हैं.

सस्ती दरों पर यहां मिलेगी दवाएं
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि योजना के अंतर्गत पूरे देश में 8700 से अधिक प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्र खोले गए हैं. ये केंद्र गुणवत्ता सम्पन्न जैनेरिक दवाइयां, सर्जिकल उपकरण, न्यूट्रास्यूटिकल तथा अन्य उत्पाद बेच रहे हैं. वर्तमान में इन केंद्रों पर 1600 से अधिक दवाइयां तथा 250 सर्जिकल उपकरण उपलब्ध हैं, जिनमें सुविधा सेनेटरी पैड भी शामिल है जो प्रति पैड 1 रुपए मूल्य पर बेचा जा रहा है.

टाइप-2 वाले व्यस्कों में ग्लाइसोमिक नियंत्रण में सुधार के लिए सीटाग्लिप्टिन को आहार और व्यायाम के सहायक माना गया है.

प्रीडायबिटीज के लक्षणों को ऐसे पहचानें. (image-canva)

ये भी पढ़ें: दिल्ली के LNJP अस्पताल में डॉक्टरों के नाम पर किसी और ने लगवा ली बूस्टर डोज

मोदी सरकार पीएमबीआई जनऔधषि केंद्रों पर जरूरी दवाओं को कम दाम पर उपलब्ध करा रही है. नागरिकों के लिए अच्छी गुणवत्ता और सस्ती कीमतों पर आवश्यक दवाओं की नियमित और पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं.

Tags: Blood Sugar, Chemical Factory, Diabetes, Medicines, Modi government



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.