हाइलाइट्स

पीएम मोदी ने कहा- पूरा विश्व कोरोना के बाद आर्थिक संकट से उबरने की चुनौतियों का सामना कर रहा
चीनी राष्ट्रपति ने दी एससीओ की अध्यक्षता संभालने पर भारत को बधाई

समरकंद. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड 19 महामारी और यूक्रेन संकट के कारण पैदा हुए व्यवधानों को दूर करने के लिए शुक्रवार को शंघाई सहयोग संगठन ‘एससीओ‘ से भरोसेमंद एवं लचीली आपूर्ति श्रृंखला तैयार करने का आह्वान किया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सदस्यों को संपर्क ‘कनेक्टिविटी‘ का दायरा बढ़ाने के लिए एक-दूसरे को पूर्ण पारगमन अधिकार देना चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने ऐतिहासिक उज्बेक शहर समरकंद में आठ सदस्यीय समूह के शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था के इस साल 7.5 प्रतिशत की दर से बढ़ने की उम्मीद है और भारत एससीओ के सदस्य देशों के बीच ‘वृहद सहयोग एवं परस्पर विश्वास‘ का समर्थन करता है.

शिखर सम्मेलन में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग, पाकिस्तान के प्रधान मंत्री शहबाज शरीफ और समूह के अन्य नेता भी शामिल हुए. प्रधानमंत्री ने कहा कि कोविड-19 और यूक्रेन में उपजे हालात के कारण वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला बाधित हुई है, जिससे विश्व के समक्ष अभूतपूर्व खाद्य एवं ऊर्जा सुरक्षा संकट पैदा हुआ. अफगानिस्तान जैसे अन्य देशों के साथ व्यापार के लिए भारत को ऐसी सुविधा प्रदान करने के प्रति पाकिस्तान की अनिच्छा के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्ण पारगमन अधिकारों पर जोर दिया.

करीब 28 महीने पहले पूर्वी लद्दाख में भारत व चीन के बीच सीमा गतिरोध की शुरुआत होने के बाद से यह पहला मौका है जब मोदी और शी का आमना-सामना हुआ. मोदी ने कहा- ‘भारत एससीओ सदस्यों के बीच वृहद सहयोग और परस्पर विश्वास का समर्थन करता है. महामारी और यूक्रेन संकट के कारण वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में कई व्यवधान आए जिससे दुनिया को अभूतपूर्व ऊर्जा एवं खाद्य संकट का सामना करना पड़ रहा है.‘

पीएम मोदी ने कहा- पूरा विश्व कोरोना के बाद आर्थिक संकट से उबरने की चुनौतियों का सामना कर रहा
आर्थिक सहयोग के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने कहा-‘जब पूरा विश्व महामारी के बाद आर्थिक संकट से उबरने की चुनौतियों का सामना कर रहा है, एससीओ की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है. एससीओ के सदस्य देश वैश्विक जीडीपी में लगभग 30 प्रतिशत का योगदान देते हैं और विश्व की 40 प्रतिशत जनसंख्या इन देशों में निवास करती है.‘ भारत के विकास का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि इस वर्ष भारतीय अर्थव्यवस्था में 7.5 प्रतिशत वृद्धि होने की आशा है, जो विश्व की बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सबसे अधिक होगी.

चीनी राष्ट्रपति ने दी एससीओ की अध्यक्षता संभालने पर भारत को बधाई
चीनी राष्ट्रपति शी ने अपने संबोधन में भारत को उज्बेकिस्तान से एससीओ की अध्यक्षता संभालने के लिए बधाई दी. उन्होंने कहा-हम अन्य सदस्य देशों के साथ मिलकर भारत की अध्यक्षता के दौरान उसका समर्थन करेंगे.

Tags: Pm narendra modi, SCO Summit



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.