हाइलाइट्स

हरियाणा के मुख्य एजेंट ने इस पेपर को 35-35 लाख रुपये के हिसाब से बेचा
छात्रों के प्रदर्शन के बाद उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने ये पूरा मामला सीबीआई को सौंपा था

जम्मू. सीबीआई ने जम्मू-कश्मीर पुलिस इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में हुई धांधली में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें एक पुलिसकर्मी है. ये गिरफ्तारियां जम्मू के अखनूर इलाके में हुई हैं. गिरफ्तार हुए लोगों में पुलिसकर्मी रमन शर्मा, दलाल सुरेश कुमार और टीचर जगदीश शर्मा हैं. ये सभी अखनूर के रहने वाले हैं.

गौरतलब है कि सीबीआई ने 13 सितंबर को जम्मू-कश्मीर समेत देश भर में 33 जगहों पर छापेमारी की थी और कुछ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेस और बैंक अकाउंट के डिटेल बरामद किये थे. उसके बाद आज पहली गिरफ्तारी की गई है. 7 मार्च 2022 को सब इंस्पेक्टर भर्ती एग्जाम में हुई धांधली के बाद इस परीक्षा को रद्द कर मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई थी. सीबीआई ने भर्ती घोटाले में 33 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

हरियाणा के मुख्य एजेंट ने इस पेपर को 35-35 लाख रुपये के हिसाब से बेचा 

आरोपियों में जम्मू.कश्मीर स्टाफ सेलेक्शन बोर्ड जेकेएसएसबी के सदस्य नारायण दत्त, बीएसएफ के डॉ. करनैल सिंह, सब इंस्पेक्टर की परीक्षा लेने वाली कंपनी मैरीट्रेक्स सर्विस और जम्मू के अखनूर में एडूमैक्स नाम से कोचिंग क्लास चलाने वाले अविनाश गुप्ता, पुलिसकर्मी रमन शर्मा, टीचर जगदीश शर्मा और अन्य शामिल हैं. सूत्रों के अनुसार सीबीआई को पता चला कि पेपर छपने के बाद ही लीक हो गया था. हरियाणा के मुख्य एजेंट ने इस पेपर को 35-35 लाख रुपये के हिसाब से बेचा और फिर जम्मू-कश्मीर में सक्रिय उनके एजेंटों ने अखनूर के कोचिंग सेंटर से संपर्क किया. फिर सभी लोगों से मोटी रकम लेकर ये पेपर बांटा गया था.

दरअसल, सब इंस्पेक्टर लिखित परीक्षा की चयन सूची आने के बाद कई छात्रों ने जम्मू में प्रदर्शन करना शुरू किया था. कई दिन तक चले इस प्रदर्शन के बाद उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने ये पूरा मामला सीबीआई को सौंपा था. उसके बाद ही ये कार्रवाई शुरू की गई और परीक्षा को रद्द कर दिया गया था. प्रदर्शन करने वाले छात्रों का आरोप था कि इस परीक्षा में वो छात्र भी चयनित हुए हैं, जो इस काबिल नहीं थे.

Tags: CBI Raid, Jammu and kashmir, Srinagar News



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.